Category: व्यंग्य

  • कोरोना से मुलाक़ात |

    कोरोना से मुलाक़ात |

    कोरोना से बचाव जरुरी है ।परंतु जीवन की इस आपा धापी मे कुछ व्यंगय भी ज़रूरी है । कोरोना..सुबह घर से निकली तो दिल दहल गयानुक्कड़ पे खड़ा मिस्टर कोरोना मिल गयादेख कर मंद मंद मुस्कुरा रहा थाधीरे धीरे करीब आ रहा थामैंने जोड़ दिए हाथ, कहा राम रामथोड़ा डरी, अंदर ही अंदर मरी ,सकुचाई, […]

    Continue Reading